History of android in hindi | एंड्राइड क्या है ?

नमस्कार दोस्तों, आज की पोस्ट में आपको बताया गया है “History of android in hindi | एंड्राइड क्या है”, Android को कब और किसने बनाया है, इन सभी के साथ-साथ एंड्राइड से रिलेटेड सभी बातें इस पोस्ट में आपके साथ साझा की गई है,

दोस्तों देखा जाए तो आज के टाइम में हर कोई एंड्राइड मोबाइल का इस्तेमाल करता है, फिर चाहे आप कहीं भी चले जाओ, आपको वहां पर एंड्रॉयड यूजर्स देखने को मिल जाएंगे, आखिर ऐसा क्यों है और लोग एंड्राइड मोबाइल को ही क्यों इतना ज्यादा पसंद करते हैं, इस से रिलेटेड आपको इस पोस्ट में डिटेल में जानकारी दी गई है,

अगर आप एंड्राइड से रिलेटेड सभी जानकारियां प्राप्त करना चाहते हैं तो इस पोस्ट को लास्ट तक जरूर पढ़ें।

Android को लोग सबसे ज्यादा पसंद क्यों करते हैं |
android meaning in hindi

दोस्तों एंड्रॉयड की वजह से हम दूर बैठे व्यक्ति से बहुत ही आसानी से जुड़ सकते हैं और उससे बात कर सकते हैं, एंड्राइड का इस्तेमाल करने से हमारी लाइफ काफी तेजी से आगे बढ़ने लगी है, हर बड़े से बड़े काम को हम एंड्राइड मोबाइल पर बात करते ही सुलझा सकते हैं,

और यहां तक कि एंड्राइड मोबाइल पर हम देश विदेश से जुड़ी जानकारियां भी प्राप्त कर सकते हैं, इसके साथ साथ एंड्राइड अपने यूजर्स को काफी किफायती दाम में एक अच्छी सर्विस प्रोवाइड करवाता है और साथ ही एंड्राइड को समझना भी काफी आसान होता है,

क्योंकि एंड्राइड को यूजर फ्रेंडली बनाया गया है, ताकि लोग इसे आसानी से समझ सके, इसीलिए दोस्तों एंड्राइड को लोग काफी ज्यादा पसंद करते हैं, मुझे उम्मीद है, आपको समझ में आ गया होगा कि एंड्राइड को लोग काफी ज्यादा पसंद क्यों करते हैं।

Read Also: Best call recording app for android

Android kya hai | एंड्राइड क्या है

अभी अगर आपसे पूछा जाए कि एंड्राइड क्या है तो सबसे पहले आपका ध्यान आपके मोबाइल के ऊपर ही जाएगा और आपका जवाब होगा, यही तो है एंड्रॉयड,

History of android in hindi

पर दोस्तों आपकी जानकारी के लिए यहां मैं आपको बता दूं, android एक ऑपरेटिंग सिस्टम है, जो कि गूगल के द्वारा develop किया गया है और यह linux karnal का ओपन सोर्स कांसेप्ट है,

अभी अगर यहां मैं आपको डिटेल में बताऊं, तो linux एक ओपन सोर्स और फ्री ऑपरेटिंग सिस्टम है, जिसमें काफी सारे मॉडिफिकेशन करके एंड्रॉयड को तैयार किया गया है,

दोस्तों जैसा कि आप सभी को पता है linux का इस्तेमाल server और डेक्सटॉप कंप्यूटर के अंदर किया जाता है और इसीलिए लेनेक्स में काफी सारे मॉडिफिकेशन करके एंड्राइड को काफी ज्यादा स्मार्ट बनाया गया है,

ताकि जो एप्लीकेशन और functions का इस्तेमाल हम एक कंप्यूटर में करते हैं, उसे हम एक एंड्राइड मोबाइल में भी इस्तेमाल कर सकें,

मुझे उम्मीद है आपको समझ आ गया होगा कि एंड्राइड क्या हैं।

Read Also: Mobile number ka location kaise patta kare

History of android in hindi

एंड्रॉयड को बनाने की शुरुआत साल 2003 में android inc के निर्माता andy rubin ने की थी, पर दोस्तों साल 2005 में गूगल ने इनकी कंपनी को खरीद लिया था और कंपनी को खरीदने के बाद एंड्राइड की डेवलपमेंट को ध्यान में रखते हुए andy rubin को ही android development का head बना दिया था,

History of android in hindi, एंड्राइड क्या है

इसके बाद गूगल ने साल 2007 में एंड्राइड को मार्केट में लॉन्च किया था इसके साथ ही android development की घोषणा भी की गई थी,

इसके बाद साल 2008 में गूगल ने अपना पहला android phone “HTC Dream” के नाम से मार्केट में लांच किया था और इसके बाद गूगल ने एंड्रॉयड की काफी सारे version मार्केट में धीरे-धीरे करके लांच किए, जिसे मार्केट में काफी ज्यादा पसंद भी किया जाने लगा और साथ ही एंड्रॉयड को युवा उपभोक्ताओं द्वारा काफी अच्छा रिस्पांस भी मिलने लगा था,

इस तरह एंड्रॉयड के पॉपुलर होने के बाद साल 2003 में andy rubin ने अपने किसी प्रोजेक्ट पर काम करने के लिए गूगल को छोड़ दिया था, उनके जाने के बाद गूगल ने सुंदर पिचाई को एंड्रॉयड का head नियुक्त कर दिया था और आज सुंदर पिचाई के नेतृत्व में एंड्रॉयड सफलता के शिखर की ऊंचाइयों को छूता नजर आ रहा है,

Read Also: Photo background remove kaise kare

Android ke features ke bare me jaane

दोस्तों वैसे तो आप सभी एंड्राइड मोबाइल का इस्तेमाल कर रहे हैं, तो आपको अच्छे से पता होगा कि एंड्राइड में आपको कौन-कौन से फीचर्स देखने को मिलते हैं, पर फिर भी आपकी जानकारी के लिए यहां पर हमने आपके साथ एंड्रॉयड के फीचर्स के बारे में थोड़ा डिटेल में जानकारी दी है,

No 1. एंड्राइड का इंटरफेस हमें काफी सिंपल देखने को मिलता है और इसे हर कोई आसानी से समझ सकता है,

No 2. Android में हमें लगभग सभी तरह की भाषा देखने को मिल जाती है, जैसे कि हिंदी, इंग्लिश, गुजराती, मराठी, पंजाबी, बंगाली, तेलुगु इत्यादि भाषा आपको इसमें देखने को मिल जाती है, आप अपनी पसंद के हिसाब से किसी भी भाषा में एंड्रॉयड का इस्तेमाल कर सकते हैं,

No 3. आपको एंड्राइड के अंदर multitasking का फीचर भी देखने को मिल जाता है, जिस का यूज करके आप एक बार में किसी एक प्रोग्राम पर काम करते करते दूसरे प्रोग्राम को use कर सकते हैं,

No 4. एंड्राइड में आपको connectivity काफी काफी अच्छा फीचर देखने को मिल जाता है जैसे कि- bluetooth, Wi-Fi, hotspot, cdma, 2g, 3G, 4G, 5g, nfc जैसे इत्यादि फीचर्स आपको मिल जाते हैं,

No 5. एंड्राइड में आपको ऐप इंस्टॉल करने का भी फीचर दिया जाता है, जिसकी हेल्प से आप एक्स्ट्रा कोई भी फीचर अगर अपने मोबाइल में add करना चाहते हैं, तो apps की मदद से आप आसानी से ऐड कर सकते हैं,

No 6. एंड्राइड में आप बड़े और heavy games को भी play कर सकते हैं,

No 7. गूगल अपने एंड्राइड OS को और भी ज्यादा बेहतर बनाने के लिए इसमें नए नए फीचर्स को अपडेट करता रहता है,

No 8. एंड्राइड में अगर कोई भी नई अपडेट आती है, तो आपको आपके पुराने एंड्राइड मोबाइल में ही उसकी अपडेट मिल जाती है और आप अपने फोन को अपडेट करके एंड्राइड के न्यू फीचर्स का यूज भी कर सकते हैं,

Read Also: Android phone ka backup kaise le

Types of android versions | android version names a to z list

दोस्तों गूगल ने अभी तक एंड्रॉयड के जितने भी version लॉन्च किए हैं, उसकी पूरी लिस्ट यहां नीचे हमने आपके साथ साझा की है,

  • Android 1.0 Alpha
  • Android 1.1 Beta
  • Android 1.5 Cupcake
  • Android 1.6 Donut
  • Android 2.1 Eclair
  • Android 2.3 Froyo
  • Android 2.3 Gingerbread
  • Android 3.2 Honeycomb
  • Android 4.0 Ice Cream Sandwich
  • Android 4.1 Jelly Bean
  • Android 4.2 Jelly Bean
  • Android 4.3 Jelly Bean
  • Android 4.4 KitKat
  • Android 5.0 Lollipop
  • Android 5.1 Lollipop
  • Android 6.0 Marshmallow
  • Android 7.0 Nougat
  • Android 7.1 Nougat
  • Android 8.0 Oreo
  • Android 8.1 Oreo
  • Android 9.0 Pie
  • Android 10

गूगल ने अपने इन सभी version को नए फीचर्स और कुछ नहीं अपडेट के साथ लांच किया था और हमेशा अपने एंड्रॉयड यूजर को हैप्पी रखने की कोशिश भी करता रहता है, दोस्तों गूगल लगातार android OS पर काम कर रहा है और इसे बेहतर से बेहतर बनाने की कोशिश हमेशा करता रहता है,

आज के टाइम पर गूगल ने एंड्रॉयड को इतना विकसित कर दिया है, कि जो काम आप कंप्यूटर पर कर सकते हैं, वह काम अब आप अपने मोबाइल पर भी कर सकते हैं,

FAQs for android

What is stock android | stock android meaning ?

Stock android एक प्योर एंड्राइड होता है, जिसमें आपको कोई भी थर्ड पार्टी ऐप देखने को नहीं मिलती है और ना ही इसमें आपको किसी भी प्रकार का कोई भी ऐड देखने को मिलता है,

स्टॉक एंड्राइड में आपको सिर्फ गूगल की एप्स देखने को मिलती है, मुझे उम्मीद है आपको समझ में आ गया होगा, (What is stock android) स्टॉक एंड्राइड क्या है।

Meaning of android ?

Android एक ऐसा ऑपरेटिंग सिस्टम है जो लीनेक्स कर्नल के ऊपर आधारित है, जिसे गूगल के द्वारा विकसित किया गया है, दोस्तों लीनेक्स एक ओपन सोर्स और फ्री ऑपरेटिंग सिस्टम है, जिसमें काफी सारी मॉडिफिकेशन और डेवलपमेंट करके एंड्राइड को तैयार किया गया है।

तो दोस्तों मुझे उम्मीद है आपको समझ में आ गया होगा एंड्रॉएड क्या है और एंड्रॉयड से रिलेटेड अगर आप और भी ज्यादा जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो हमारी इस पोस्ट को पूरा पढ़ें।

मोबाइल को हिंदी में क्या कहते हैं ?

मोबाइल को हिंदी में दूर भाषा यंत्र कहा जाता है।

Why android version names are food ?

दोस्तों क्या आपको पता है android version के नाम मिठाई के नाम से ही क्यों रखे जाते हैं, मैं आपको यहां बता दूं, android version के नाम मिठाई पर इसलिए रखे जाते हैं, क्योंकि एंड्राइड एक ऐसा उपकरण है जिसे हर कोई इस्तेमाल करता है, साथ ही एंड्रॉयड हमारी लाइफ में हमारे एक अच्छे फ्रेंड की तरह काम करता है, इसीलिए गूगल अपने सभी android version के नाम मिठाई के नाम से ही रखता है, ताकि हमारी लाइफ में मिठास बनी रहे।

एंड्राइड किसने बनाया है ?

एंड्राइड को nick sears, rich miner, andy rubin ने मिलकर बनाया है।

First android phone in india ?

एंड्राइड का पहला फोन गूगल ने साल 2008 में “HTC Dream” के नाम से मार्केट में लांच किया था।

Conclusion:

दोस्तों मुझे उम्मीद है आपको “History of android in hindi” पोस्ट पसंद आई होगी,

अगर आप आगे भी इसी तरह की अपडेट प्राप्त करना चाहते हैं, तो हमारी वेबसाइट पर जरूर सब्सक्राइब करें साथ ही इस पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ साझा भी करें, धन्यवाद।

Read More Post:

Share This Post:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *