Duniya ke saat ajoobe: दुनिया के सात अजूबे कौन से हैं?

आज की इस पोस्ट में हम आपको Duniya ke saat ajoobe, दुनिया के सात अजूबे की रोचक जानकारी देने जा रहे हैं, सात अजूबे इस दुनिया में कौन-कौन से हैं इसकी महत्वपूर्ण व ज्ञानवर्धक जानकारी प्राप्त करने के लिए हमारी इस पोस्ट को अवश्य पढ़ें,

सुंदरता सभी का मन मोहित करती है,फिर वह चाहे प्रकृति निर्मित हो या मानव निर्मित। समुद्र, पहाड़, हरियाली यह नजारे हमें प्रकृति की कृपा से ही देखने को मिलते हैं। प्रकृति से ही प्रेरणा लेकर इंसान मे भी इस दुनिया को और ज्यादा खूबसूरत बनाने की ललक पैदा हो गई।

इसी वजह से इंसानों ने कभी यादगार स्वरूप तो कभी कला के प्रदर्शन व समर्पण के भाव से या अन्य वजह से ऐसी रचनाएं रच कर इस दुनिया को और खूबसूरत बना दिया है।

Duniya ke saat ajoobe दुनिया के सात अजूबे कौन से हैं

सात अजूबे इस दुनिया में कौन-कौन से हैं। (प्राचीन दुनिया के सात अजूबे)

१, गीजा का विशाल पिरामिड (मिस्र)
२, बेबीलोन के झूलते बगीचे (इराक)
३, सिकंदरिया का प्रकाश स्तंभ (मिस्र)
४, ओलंपिया में जीएस की मूर्ति (यूनान)
५, हेली कारनेशंस का मकबरा (तुकी)
६, आतिमिस का मंदिर (तुकी)
७, रूट्स के कोलोसस की मूर्ति (यूनान)

2200 साल पहले यह सूची यूनानी विद्वानों ने बनाई थी। 7 जुलाई 2007 को इसमें संशोधन हुआ क्योंकि अधिकांश इमारतें टूट गए थे सिर्फ एक इमारत सही रही ग्रेट पिरामिड ऑफ गीजा।

फिर 1999 में एक नई सूची बनाई गई। 2005 से दुनिया के सात अजूबों को चुनने के लिए इंटरनेट द्वारा मतदान हुआ। जिसमें 100 मिलियन (10 करोड़) लोगों ने इस चुनाव में हिस्सा लिया सात अजूबे चुनने के लिए एक संस्था का गठन हुआ जिसका नाम new7wonders फाउंडेशन रखा गया।

और फिर आखिरकार जाकर हमें दुनिया के सात अजूबे कौन से हैं इसकी पूरी लिस्ट प्राप्त हुई और अब जो दुनिया के सात अजूबे कहलाते हैं उन सभी के यहां पर हमने आपको विस्तार पूर्वक जानकारी दी है।

आइए अब मौजूदा (7 wonders) सात अजूबे इस दुनिया के कौन से हैं इसके बारे में जानते हैं।

No 1: क्राइस्ट द रिडीम

इनको उद्धार करने वाले ईसा मसीह भी कहते हैं। यह मूर्ति दुनिया की दूसरी बड़ी मूर्ति है। ईसाई धर्म की प्रतीक इस प्रतिमा के कारण रियो और ब्राजील की एक पहचान बन गई है।

यह मजबूत कंक्रीट वाह सॉपस्टोन से बनी हुई प्रतिमा है इसके निर्माण में 9 वर्ष का समय लगा। (1922 से 1931) यह प्रतिमा 39.6 मीटर लंबी है व 30 मीटर चौड़ी है।

इसका वजन 635 टन है। यह तेजुका फॉरेस्ट नेशनल पार्क में कोकोबाडो पर्वत के शिखर पर स्थित है, जहां से पूरा शहर दिखता है।

सैमसंग मोबाइल: सैमसंग कहां की कंपनी है सैमसंग का मालिक कौन है यह जानकारी प्राप्त करने के लिए यहां दिए लिंक पर क्लिक करें।

No 2: चीन की दीवार

क्या आप जानते हैं ,कि यह दीवार, सिर्फ चीन की ही नहीं बल्कि दुनिया की भी सबसे लंबी दीवार है। इसे अंग्रेजी में ग्रेट वॉल ऑफ चाइना कहते हैं, चीन के विभिन्न शासकों ने इसे उत्तरी हमलावरों से रक्षा हेतु बनवाया था।

ईट ,पत्थर ,लकड़ी पर धातु से बनी इस दीवार को दुनिया की सबसे पुरानी दीवार भी कहा जाता है। इसके निर्माण की शुरुआत ईसा पूर्व पांचवीं शताब्दी से हुई जो 16 वीं शताब्दी तक चली।

इस दीवार को करीब 2000000 मजदूरों ने मिलकर बनाया उनमें से लगभग 1000000 मजदूरों ने अपनी जान गवाई थी, जिन्हें इस दीवार के नीचे ही दफना दिया गया था,

जिससे इस दीवार को दुनिया का सबसे बड़ा कब्रिस्तान भी कहा जाता है इसकी लंबाई के बारे में 2 आंकड़े हैं-

  • 8850 किलोमीटर(2009सर्वेक्षण)
  • 21196 किलोमीटर (2021सर्वेक्षण)

No 3: जॉर्डन का पेट्रा

यह एक ऐतिहासिक शहर है और यह अपनी विचित्र वास्तुकला के लिए मशहूर है। इसमें बेहतरीन नक्काशी की हुई लाल पत्थर से बनी हुई कई इमारतें हैं।

जिसमें 138 फुट ऊंचा मंदिर पानी से भरे हुए मंत्रमुग्ध करने वाले खूबसूरती लिए हुए तालाब, नेहरे, बकुला स्टेडियम है। पेट्रा जॉर्डन के लिए विशेष महत्व इसलिए भी रखता है,

क्योंकि यह एक मोटी कमाई का जरिया है कह सकते हैं यह एक सोने के अंडे देने वाली मुर्गी है।

उमंग एप: उमंग एप के फायदे जाने और उनको उपयोग करने का तरीका समझने के लिए यहां दिए लिंक पर क्लिक करें।

No 4: ताजमहल भारत की शान

प्यार से ज्यादा खूबसूरत एहसास इस दुनिया में कुछ भी नहीं होता। अपनी खूबसूरत प्यार का इजहार करने के लिए मुगल बादशाह शाहजहां ने अपनी बेगम मुमताज महल की याद में इस शानदार कृति का निर्माण करवाया।

1632 में इसका निर्माण कार्य आरंभ हुआ लगभग 15 वर्षों में यह पूरा बनकर तैयार हुआ यह बेहद खूबसूरत गुंबदओ वाला सफेद चमचमआता हुआ महल है यह भारतवर्ष की शान है,

उत्तर प्रदेश के आगरा शहर में स्थित है चारों तरफ से हरियाली से घिरा है मुगल शिल्पकला का यह सबसे बेहतरीन नमूना है जिसे सिर्फ देखने मात्र के लिए हजारों लोग रोज जाते हैं।

No 5: रोम का कोलोसियम

इटली में स्थित यह विशाल खेल स्टेडियम आज भी इंजीनियरों के लिए किसी पहेली से कम नहीं है। इसकी नकल करना मुमकिन नहीं हो पाया है। इसे 70 वीं सदी के सम्राट वेस्पेशियन ने बनाना शुरू किया था। इसमें 50000 से 80000 तक लोग एक साथ बैठकर खेल देख सकते हैं।

विवो मोबाइल: वीवो कहां की कंपनी है, यह जानकारी आप यहां दिए लिंक पर क्लिक करके प्राप्त कर सकते हैं।

No 6: माचू पिच्चू

यह दक्षिण अमेरिका के पैरों में स्थित है, समुद्र तल से 24 से 30 मीटर ऊपर है और इसे पुरातत्वविद कहते हैं, माचू पिच्चू का निर्माण 1400 ईसवी के आसपास राजा पचाकुती ने करवाया था।

काफी सालों बाद यहां सब कुछ नष्ट हो गया, लेकिन 1911 में इतिहासकार हिरण बिंघम ने इसकी खोज की और इसे दुनिया के सामने लाया। 1983 में यूनेस्को ने इसे विश्व धरोहर घोषित किया यह जगह बरबस ही पर्यटकों का ध्यान अपनी ओर आकर्षित कर लेती है।

No 7: चिचेन इत्जा

मेक्सिको में बसा एक बहुत प्राचीन म्यान मंदिर है। यह AD600 में बना। चिचेन इत्जा यहां का सबसे बड़ा शहर है, यहां हर साल 1.4 मिलियन पर्यटक आते हैं। युगांतर स्टेट में यह शहर आता है,

यहां का माया मंदिर 5 किलोमीटर में बना है। वह 79 फीट ऊंचा पिरामिड की आकृति लिए हुए हैं, चारों तरफ बनी सीढ़ियों से इसमें ऊपर जाया जा सकता है,

इसकी सीढ़ियों की संख्या 365 है चारों दिशाओं में 91 सीढ़ियां है हर सीडी 1 दिन का प्रतीक मानी जाती है यहां पर पिरामिड ऑफ़ कुकूल्कन, चक मूल का मंदिर, साथ ही कैदियों के खेल का मैदान भी है।

सबसे अमीर इंसान: दुनिया का सबसे अमीर आदमी कौन है यह जानकारी प्राप्त करने के लिए यहां दिए लिंक पर क्लिक करें।

FAQ’s

Q1: पुराने सात अजूबों में से कौनसा अजूबा अभी तक मौजूद है?

Ans: ग्रेट पिरामिड ऑफ गीजा।

Q2: न्यू 7 वंडर फाउंडेशन क्या है?

Ans: नहीं सात अजूबे चुनने वाली फाउंडेशन।

Q3, कितने लोगों ने सात अजूबों को चुनने में वोट किया था?

Ans: 100मिलियन(१०० करोड)

Q4, भारत का कौन सा स्मारक सात अजूबों में शामिल है?

Ans: उत्तर प्रदेश के आगरा शहर में स्थित ताजमहल।

होम पेज पर जाएं यहां क्लिक करें

आगे और पढ़ें:

Conclusion: आखरी शब्द

आज की इस पोस्ट में हमने आपको प्राचीन और नवीन दुनिया के सात अजूबों की जानकारी दी आप इस बारे में पूरी जानकारी चाहते हैं तो अंत तक हमारी इस पोस्ट को जरूर पढ़ें,

आशा है यह ज्ञानवर्धक व रोचक पोस्ट Duniya ke saat ajoobe, दुनिया के सात अजूबे कौन से हैं?आपको अवश्य पसंद आई होगी, धन्यवाद।

लेखिका का नाम – प्रेरणा गोधा

Share This Post:

Leave a Comment

Saat Ajube Is Duniya Mein: दुनिया के सात अजूबे कौन से हैं?