History of vigyan: Vigyan kya hai in hindi

दोस्तों जैसा कि आप सभी को पता है विज्ञान की बदौलत आज हम काफी आगे बढ़ चुके हैं, देखा जाए तो इंसान के पास मौजूद हर एक चीज आज विज्ञान की ही देन है जैसे कि मोबाइल, टीवी, कंप्यूटर, इलेक्ट्रॉनिक आइटम, वाहन, हवाई जहाज, इत्यादि।

अगर हमारे पास विज्ञान ना होता तो शायद ही हम इन चीजों को कभी देख पाते, दोस्तों आज की पोस्ट में हम सिर्फ और सिर्फ विज्ञान के इतिहास के बारे में ही जानेंगे, की History of vigyan, Vigyan kya hai, विज्ञान का इतिहास क्या है विज्ञान से जुड़े हर सवाल के जवाब आज आपको इस पोस्ट के माध्यम से शेयर किए हैं।

History of vigyan, Vigyan kya hai

दोस्तों अगर आप विज्ञान से संबंधित पूरी जानकारी पढ़ना चाहते हैं विज्ञान को समझना चाहते हैं उसे जानना चाहते हैं तो आपको हमारी इस पोस्ट को एक बार पूरा अवश्य पढ़ना चाहिए।

Contents

Vigyan kya hai | विज्ञान क्या है, साइंस किसे कहते हैं, हिंदी मे समझे

दोस्तो सबसे पहले आपको हम यहां बता दें विज्ञान हमारे पूर्वजों की देन है, और विज्ञान एक ऐसा ज्ञान है या इसे हम विद्या भी कह सकते हैं जो हमें किसी चीज को जानने, पहचानने और समझने का अनुभव प्रदान करता है, विज्ञान का प्रयोग हम किसी विषय की प्रकृति को जानने में या उसके सिद्धांतों को जानने के लिए करते हैं।

विज्ञान की सहायता से हम अपनी परिकल्पना को स्थापित और व्यवस्थित कर सकते हैं, विज्ञान का कोई रूप या कोई आकार नहीं है विज्ञान आप जितना अर्जित करोगे आप का ज्ञान उतना ही ज्यादा बढ़ता चला जाएगा। विज्ञान को सीखने के लिए कोई उम्र या कोई सीमा नहीं होती है आप जितना चाहे उतना ज्ञान विज्ञान से प्राप्त कर सकते हैं।

दोस्तों विज्ञान क्या है सरल उत्तर देकर हमने यहां आपको समझाया है, अब अगर बात की जाए विज्ञान कितने प्रकार का होता है तो यहां आपको बता दे विज्ञान के कई रूप और कई प्रकार हैं जिनकी यहां आगे हमने आपको पूरी जानकारी दी है।

Aag ki khoj: आग की खोज कब और किसने की थी यह जानकारी प्राप्त करने के लिए यहां दिए लिंक पर क्लिक करें। 

विज्ञान को किन-किन नामों से जाना जाता है?

दोस्तों बहुत से लोगों का मानना है कि विज्ञान शब्द की उत्पत्ति हिंदी भाषा से हुई है पर यहां आपकी जानकारी के लिए बता दें, विज्ञान शब्द को लेटिन भाषा से लिया गया है जिसका हिंदी अर्थ ज्ञान और जानना होता है।

यहां पर हमने आपको विज्ञान को दूसरी भाषाओं में किन-किन नामों से जाना जाता है इसकी पूरी जानकारी दी है तो आइए जानते हैं विज्ञान के दूसरे नाम क्या है।

विज्ञान को अंग्रेजी में क्या कहते हैं?(Science) साइंस
विज्ञान को हिंदी में क्या कहते हैं?दक्षता, योग्यता और जानकारी
विज्ञान को संस्कृत में क्या कहते हैं?विज्ञानम्, विद्या
विज्ञान को उर्दू में क्या कहते हैं?گیان , तार्किक ज्ञान

Mobile ka aviskar: मोबाइल की खोज किसने की थी किसने मोबाइल का आविष्कार किया था यह जानकारी पढ़ने के लिए यहां दिए लिंक पर क्लिक करें।

विज्ञान कितने प्रकार के होते हैं?

दोस्तों हम आपको बता दें विज्ञान को मुख्य रूप से चार भागों में बांटा गया है और विज्ञान के इन चार भागों को विभिन्न विषयों के अंदर बांटा गया है, जिनमें से विज्ञान की प्रमुख चार शाखाएं कुछ इस प्रकार हैं।

  1. जैविक विज्ञान,
  2. भौतिक विज्ञान,
  3. गणितीय तर्कशास्त्र विज्ञान,
  4. सामाजिक विज्ञान।

No 1: जैविक विज्ञान क्या है? (Jaivik vigyan kya hai)

सबसे पहले तो हम यहां आपको बता दें जैविक विज्ञान को जीव विज्ञान के नाम से भी जाना जाता है यह प्राकृतिक विज्ञान की एक प्रमुख शाखा है। जैविक विज्ञान के अंतर्गत जानवरों, सूक्ष्मजीव, पौधे और व्यक्ति विशेष के ऊपर अध्ययन करना होता है।

AxialWork की रेगुलर न्यूज़ पढ़ने के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें:

दोस्तों वर्ष 1700 में पियरे-एंटोनी डी मोनेट और जीन-बैप्टिस्ट डी लैमार्क ने मिलकर जीव विज्ञान का शब्द बनाया था, शुरुआती दौर में जीव विज्ञान यानी कि जैविक विज्ञान सिर्फ वनस्पति विज्ञान और जीवित चीजों के अध्ययन तक ही सीमित था।

पर समय के साथ साथ कई नई शाखाएं बनती चली गई, और नई शाखाओं के जुड़ने से जैविक विज्ञान का जन्म हुआ। 

Train ka aviskar: ट्रेन का आविष्कार कब हुआ था इस जानकारी को पढ़ने के लिए यहां दिए लिंक पर क्लिक करें। 

No 2: भौतिक विज्ञान क्या है? (Bhautik vigyan kya hai)

भौतिक विज्ञान प्रकृति विज्ञान की प्रमुख विशाल शाखा है, और विद्वानों के अनुसार भौतिकी विज्ञान एक ऊर्जा विषयक विज्ञान है, जिसमें ऊर्जा का रूपांतरण अथवा उनके द्रव्य संबंधों की विवेचना का कार्य होता है।

भौतिकी विज्ञान में प्रकृति जगत और उसके आंतरिक क्रियाओं के ऊपर अध्ययन किया जाता है, जैसे कि गति, द्रव्य, प्रकाश, ध्वनि, उस्मा, विद्युत, काल, स्थान, इत्यादि।

No 3: गणितीय तर्कशास्त्र विज्ञान क्या है?

गणितीय तर्कशास्त्र गणित विषय की प्रमुख शाखा है, गणितीय तर्कशास्त्र का दार्शनिक तर्कशास्त्र और संगणक विज्ञान के साथ निकट का सम्बन्ध है और इसे मॉडल सिद्धान्त, समुच्चय सिद्धान्त, सिद्धि सिद्धान्त और रिकर्सन सिद्धान्त के अंदर विभाजित किया जाता है।

No 4: सामाजिक विज्ञान क्या है? (Samajik vigyan kya hai)

मनुष्य जीवन या मानव समाज का अध्ययन करने को ही सामाजिक विज्ञान कहा जाता है। सामाजिक विज्ञान में नृविज्ञान, पुरातत्व, अर्थशास्त्र का अध्ययन शामिल है। सामाजिक विज्ञान को अंग्रेजी भाषा में सोशल साइंस (social science) के नाम से जाना जाता है।

भारत की खोज: भारत की खोज के इतिहास के बारे में जानकारी प्राप्त करने के लिए यहां दिए लिंक पर क्लिक करें। 

विज्ञान का इतिहास | History of vigyan

दोस्तों विज्ञान हमारे पूर्वजों की देन माना गया है, जिसकी उत्पत्ति का अनुमान लगाना काफी ज्यादा मुश्किल है, पर पुराणों के आधार पर आज हमारे पास बहुत से ऐसी ग्रंथ मौजूद है जिनमें विज्ञान को दर्शाया गया है।

विज्ञान एक अनुभवजन्य, सैद्धांतिक और प्रक्रियात्मक ज्ञान है, जो कि हमारे पूर्वजों विद्वानों और वैज्ञानिकों द्वारा निर्मित किया गया है। विज्ञान को चार अलग-अलग भागों में बांटा गया है जिसकी जानकारी हम आपको ऊपर दे चुके हैं।

सबसे अमीर इंसान: दुनिया का सबसे अमीर आदमी कौन है यह जानकारी प्राप्त करने के लिए यहां दिए लिंक पर क्लिक करें। 

विज्ञान की आवश्यकता क्यों है?

अगर बात की जाए विज्ञान की आवश्यकता क्यों है तो यहां हम आपको बता दें, विज्ञान इंसान के लिए एक ऐसी उपलब्धि है जिसकी बदौलत आज इंसान को मोबाइल, कंप्यूटर, वाहन, हवाई जहाज, रॉकेट, मिसाइल, सैटेलाइट जैसी उपलब्धियां प्राप्त हुई है।

विज्ञान के बदौलत मनुष्य ने आज प्रकृति की शक्तियों को पहचाना है और उन्हें इस्तेमाल करना सीखा है। और इन सभी की बदौलत आज इंसानी जीवन काफी सरल हो गया है। दोस्तों जो काम लाखों लोग मिलकर नहीं कर पाते वह काम आज एक इंसान विज्ञान की बदौलत अकेला कर सकता है।

हमें उम्मीद है अब आपको पता चल गया होगा कि विज्ञान की आवश्यकता क्यों है।

भूत वाली फिल्म: अगर आपको भूत वाली फिल्म देखना पसंद है तो यहां दिए लिंक पर क्लिक करके 300 से ज्यादा भूत वाली फिल्मों की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। 

विज्ञान से हमें क्या लाभ है?

No 1: विज्ञान की बदौलत आज हम एक मोबाइल का इस्तेमाल करके एक शहर से दूसरे शहर में और एक देश से दूसरे देश के अंदर किसी भी व्यक्ति से बात कर सकते हैं।

No 2: विज्ञान के कारण आज हम वाहन, रेलगाड़ी, हवाई जहाज जैसे यातायात के साधनों में सफर करके कहीं भी आसानी से आ जा सकते हैं।

No 3: विज्ञान के कारण आज हम एक छोटे से मोबाइल के ऊपर इंटरनेट का इस्तेमाल करके देश विदेश की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

No 4: विज्ञान की बदौलत आज हमें बहुत सी ऐसी मशीनें मिल गई है, जिनका इस्तेमाल करके सिर्फ एक आदमी 100 से ज्यादा लोगों का काम आसानी से कर सकता है।

No 5: विज्ञान ने चिकित्सा के क्षेत्र में आज इतनी तरक्की कर ली है कि बड़ी से बड़ी बीमारी का इलाज आज विज्ञान के पास मौजूद है।

No 6: विज्ञान के बदौलत आज हमारे वैज्ञानिक चांद और मंगल ग्रह पर पहुंच चुके हैं।

विवो मोबाइल: वीवो कहां की कंपनी है, यह जानकारी आप यहां दिए लिंक पर क्लिक करके प्राप्त कर सकते हैं।

विज्ञान से हमें क्या हानि है? | विज्ञान से हमें क्या नुकसान है?

दोस्तों जिस चीज से हमें जितना लाभ प्राप्त होता है उस चीज से हमें उतनी ही हानि भी प्राप्त होती है और ऐसे में जहां हमें विज्ञान से बहुत से लाभ मिल रहे हैं वहीं कुछ हानि भी हमें इसके द्वारा प्राप्त हो रही है आइए जानते हैं, विज्ञान से हमें क्या नुकसान है?

No 1: दोस्तों पहले किसी काम को करने के लिए मजदूरों की जरूरत पड़ती थी पर वही मजदूरों का काम आज मशीनों द्वारा किया जा रहा है जिसके चलते आज हमारे देश में बेरोजगारी बढ़ती ही जा रही है।

No 2: विज्ञान की बदौलत आज हमें बहुत से ऐसे संसाधन प्राप्त हुए हैं जिनकी बदौलत हम एक जगह से दूसरी जगह बहुत ही आसानी से आ जा सकते हैं पर यहां आपको बता दें संसाधनों की वजह से आज लाखों लोग एक्सीडेंट में मारे जा रहे हैं।

No 3: विज्ञान की वजह से जहां आज मनुष्य का विकास हो रहा है वही मनुष्य ने आज विज्ञान का इस्तेमाल करके परमाणु बम जैसे बहुत से ऐसे हथियार बना लिए हैं जिनके इस्तेमाल मात्र से शहर के शहर बर्बाद किए जा सकते हैं।

No 4: आज लोग घंटों तक मोबाइल और टेलीविजन के आगे बैठे रहते हैं और अपनी फैमिली को बिल्कुल भी टाइम नहीं देते हैं इससे परिवार के अंदर दूरियां बनती चली जाती है।

No 5: आज हर शहर मैं बहुत सी ऐसी फैक्ट्रियां कारखाने और उद्योग खुल चुके हैं जिन से निकला धुंआ हमारी वायु को प्रदूषित कर रहा है और इससे मनुष्य जीवन खतरे में जा रहा है।

No 6: विज्ञान की बदौलत मिली सभी चीजें इंसान को कमजोर बना रही है जो इंसान के लिए घातक साबित हो सकती है।

सबसे बड़ा बांध: भारत का सबसे बड़ा बांध कौन सा है और उसका क्या नाम है, इस जानकारी को प्राप्त करने के लिए यहां दिए लिंक पर क्लिक करें।

सबसे बड़ा बांध: भारत का सबसे बड़ा बांध कौन सा है और उसका क्या नाम है, इस जानकारी को प्राप्त करने के लिए यहां दिए लिंक पर क्लिक करें।

FAQ’s

Q1: विज्ञान को कितने भागों में बांटा गया है?

Ans: विज्ञान को मुख्य रूप से दो भागों में बांटा गया है सजीव तथा निर्जीव।

Q2: विज्ञान का जनक कौन है?

Ans: दुनिया के वैज्ञानिकों के अनुसार गैलीलियो को आधुनिक विज्ञान का जनक माना गया है।

Q3: विज्ञान की अलग-अलग शाखाएं क्यों हैं?

Ans: विज्ञान को अलग-अलग शाखाओं में इसलिए बांटा गया है ताकि विज्ञान को समझना मनुष्य के लिए आसान हो जाए।

Q4: विज्ञान के कितने भाग होते हैं?

Ans: विज्ञान के मुख्य रूप से 4 भाग होते हैं।

जैविक विज्ञान,
भौतिक विज्ञान,
गणितीय तर्कशास्त्र विज्ञान,
सामाजिक विज्ञान।

Q5: विज्ञान की खोज कब हुई थी?

Ans: विज्ञान की खोज 16 वह 17 वी शताब्दी के मध्य हुई थी।

होम पेज पर जाएंयहां क्लिक करें।

आगे और पढ़ें:

Conclusion: आखिरी शब्द

हमें उम्मीद है आपको हमारी आज की पोस्ट History of vigyan, Vigyan kya hai, विज्ञान का इतिहास क्या है पसंद आई होगी विज्ञान से संबंधित आपके जो भी सवाल हो आप हमें कमेंट द्वारा पूछ सकते हैं।

आपको यह आलेख कैसा लगा हमें कमेंट में जरूर बताएं साथ ही अपनी राय भी आप कमेंट में दे सकते हैं, दोस्तों अगर आप आगे भी किसी तरह से ज्ञानवर्धक लेख पढ़ना चाहते हैं तो हमें सपोर्ट करें और हमारी वेबसाइट पर subscribe करके जाएं, धन्यवाद।

Leave a Comment