MLA का फुल फॉर्म क्या है? | MLA full form in hindi

5/5 - (2 votes)

अगर आपकी उम्र 18 वर्ष से अधिक हो चुकी है तो आपने अपने क्षेत्र में एमएलए के चुनाव के समय अपने पसंदीदा एमएलए का चुनाव किया होगा और उन्हें वोट दिया होगा, पर क्या आप जानते हैं, MLA का फुल फॉर्म क्या है, एमएलए कौन होता है, MLA का क्या कार्य होता है।

दोस्तों अगर आपको नहीं पता एमएलए का पूरा नाम क्या होता है या एमएलए के पास कौन-कौन से पावर होते हैं तो इससे संबंधित आज के इस लेख में आपको विस्तार पूर्वक पूरी जानकारी दी गई है।

MLA full form in hindi

MLA का पूरा नाम क्या हैं? (MLA full form in hindi)

M का मतलब क्या होगा?Member
L का मतलब क्या होगा?Legislative
A का मतलब क्या होगा?Assembly
MLA full form in englishMember of Legislative Assembly
MLA full form in hindiविधानसभा का सदस्य

MLA का फुल फॉर्म में “Member of Legislative Assembly” होता है, और एमएलए को हिंदी में “विधानसभा का सदस्य” कहते हैं। और जिसे छोटे शब्दों में “विधायक” कहा जाता है।

MLA कौन होता है (Who Is MLA)

सभी अलग-अलग राज्यों में अलग-अलग विधानसभा होती है और उन सभी विधानसभाओं में एक “MLA होता है, और एमएलए का चुनाव निर्वाचन क्षेत्र के मतदाताओं द्वारा होता है, साथ ही सभी राज्यों के एमएलए का कार्यकाल 5 वर्ष का होता है और यह हर 5 वर्षों में मतदाताओं द्वारा चुना जाता है।

आपकी जानकारी के लिए बता दें, MLA को विधायक के नाम से भी पुकारा जाता है, mla का कार्य होता है कि वह अपने क्षेत्र का विकास करें और अपने क्षेत्र से संबंधित जो भी समस्या होते है उसे विधानसभा के अंदर मुख्यमंत्री के साथ-साथ अन्य सभी तमाम मंत्रियों के सामने अपनी रखें और अपने क्षेत्र की समस्याओं का समाधान निकालें।

विधानसभा के द्वारा एमएलए को क्षेत्र के विकास के लिए करोड़ों रुपए का फंड दिया जाता है और एमएलए का फर्ज होता है कि वह उन पैसों को अपने क्षेत्र के विकास के लिए खर्च करें और लोगों की समस्याओं को दूर करें।

शब्दों के इंग्लिश और हिंदी फुल फॉर्म

MLA कैसे चुना जाता है?

किसी भी क्षेत्र के अंदर एमएलए का चुनाव कराने के लिए सबसे पहले अच्छे अच्छे उम्मीदवारों को खड़ा किया जाता है, यानी कि अच्छे अच्छे उम्मीदवारों को आपस में चुनाव लड़ाया जाता है,

इसके बाद जिस क्षेत्र में चुनाव लड़ा जाता है, वहा पर रहने वाले निवासी अपने पसंदीदा उम्मीदवार को अपना मत देते हैं और इसके बाद मतदान में जितने भी मत (वोट) पढ़ते हैं उनकी गिनती की जाती है, कि किस उम्मीदवार को जादा मत मिले है,

जिसको भी ज्यादा मत मिलते हैं, उसे विजई घोषित कर दिया जाता है, यानी कि उस क्षेत्र का एमएलए बना दिया जाता है, और इस प्रकार सभी राज्यों में एक विधानसभा का सदस्य चुना जाता है जिसे विधायक या एमएलए कहते हैं।

रसगुल्ले को किन-किन नामों से जाना जाता है?

MLA बनने के लिए योग्यता

सभी निर्वाचन क्षेत्रों में विधायक/एमएलए (Member Of Lagislative Assembly) के चुनाव में भाग लेने के लिए निम्नलिखित योग्यताओं का होना अति आवश्यक है।

No 1: एमएलए बनने के लिए आपका भारतीय नागरिक होना आवश्यक है।

No 2: विधायक बनने के लिए आपका नाम किसी एक क्षेत्र की मतदाता सूची में होना आवश्यक है।

No 3: विधायक या एमएलए पद के लिए आपकी आयु 25 वर्ष से अधिक होनी चाहिए।

No 4: एमएलए का चुनाव लड़ने के लिए आपको 10000 रुपए की राशि जमा करानी पड़ती है।

No 5: विधायक पद के लिए आवेदन करने वाले व्यक्ति का मानसिक संतुलन अच्छा और स्वस्थ होना आवश्यक है।

No 6: अगर आपके ऊपर किसी भी बैंक या किसी भी प्रकार का बकाया लोन चल रहा है या आपने कभी कोई लोन लिया था जिसे नहीं भरा है, तो आप विधायक पद के लिए आवेदन नहीं कर सकते हैं।

Strawberry ko hindi mein kya kahate hain

MLA का क्या कार्य होता है?

No 1: नए कानूनों की योजना बनाना, और उन पर कार्य करना।

No 2: सदन में प्रश्न पूछना और पूछे गए सवालों के जवाब देना।

No 3: एमएलए का सबसे महत्वपूर्ण कार्य जनता की समस्याओं का समाधान करना होता है,

No 4: राज्य सरकार के द्वारा मिलने वाले सहायता कोष को अपने क्षेत्र के उन्नति और विकास में लगाना।

No 5: विधानसभा के अंदर अपने निर्वाचित क्षेत्र कि समस्याओं को रखना।

No 6: अपने क्षेत्र के लोगों की समस्याओं को सुनना और उनका समाधान करना।

ओयो में क्या काम होता है?

MLA की सैलरी कितनी होती है? | विधायकों का कितना वेतन होता है?

सभी राज्यों के विधायकों को मिलने वाला वेतन “विधायक निधि” से प्राप्त होता है, और यह वेतन सभी राज्यों की विधानसभाओं में लगभग 1 करोड रुपए से लेकर 5 करोड रुपए तक हर वर्ष दिया जाता है, यह पूरा पैसा राज्य के विकास के लिए होता है जिसे निर्वाचित क्षेत्र का एमएलए अपने क्षेत्र के विकास में लगाता है।

इसके अलावा सभी राज्यों के विधायकों को मासिक वेतन प्राप्त होता है, परंतु विधायकों को मिलने वाला वेतन अलग-अलग होता है जिसमें से भारत के तेलंगाना, दिल्ली और मध्य प्रदेश राज्यों के एमएलए को मिलने वाला मासिक वेतन 2 लाख से 2.50 लाख रुपए तक दिया जाता है।

साथ ही हमारे भारत के कुछ राज्य ऐसे भी हैं जहां के एमएलए को मात्र 30 से ₹50000 का मासिक वेतन ही दिया जाता है, दोस्तों वर्तमान समय में भारत के सभी राज्यों के विधायकों को मिलने वाले वेतन की जानकारी यहां आपको विस्तार पूर्वक दी है जोकि निम्नलिखित है।

राज्यमासिक वेतन
तेलंगाना2.50 लाख
दिल्ली2.10 लाख
मध्य प्रदेश2.10 लाख
उत्तर प्रदेश1.87 लाख
महाराष्ट्र1.70 लाख
जम्मू कश्मीर1.60 लाख
उत्तराखंड1.60 लाख
आंध्र प्रदेश1.30 लाख
हिमाचल प्रदेश1.25 लाख
राजस्थान1.25 लाख
गोवा1.17 लाख
हरियाणा1.15 लाख
पंजाब1.14 लाख
बिहार1.14 लाख
पश्चिम बंगाल1.13 लाख
झारखंड1.11 लाख
छत्तीसगढ़1.10 लाख
तमिलनाडु1.05 लाख
कर्नाटक98 हजार
सिक्किम86.5 हजार
केरल70 हजार
गुजरात65 हजार
ओडिशा62 हजार
मेघालय59 हजार
पांडिचेरी50 हजार
अरुणाचल प्रदेश49 हजार
मिजोरम47 हजार
असम42 हजार
मणिपुर37 हजार
नागालैंड36 हजार
त्रिपुरा34 हजार

विधायकों को दिए जाने वाले वेतन में हमेशा बदलाव होते रहते हैं और वर्तमान में भी हो सकता है कि वेतन की यह राशि आगे जाकर कम या ज्यादा कर दी जाए।

MLA की सैलरी Guide by Lakshya vidyapeeth

अगर आप वीडियो के माध्यम से हर राज्य के विधायकों को मिलने वाले वेतन के बारे में जानना चाहते हैं, तो ऊपर दिए गए वीडियो को पूरा देखें।

MLA के कार्यकाल का वक्त

जब भी किसी क्षेत्र में एक नया एमएलए चुना जाता है, तो mla उस क्षेत्र को 5 वर्ष तक संभालता है और जैसे ही विधानसभा का कार्यकाल समाप्त होता है, तो उसी दौरान एमएलए का भी कार्यकाल समाप्त हो जाता है, और निर्वाचन क्षेत्र के मतदाताओं द्वारा फिर से एमएलए का चुनाव किया जाता है। 

कोयल का दूसरा नाम क्या है?

MLA को मिलने वाली सभी सुविधाएं

दोस्तों हर एमएलए को सरकार द्वारा बहुत सी सुविधाएं दी जाती है, जोकिंग निम्नलिखित है।

No 1: सभी विधायकों को सरकारी आवास दिया जाता है।

No 2: इनकी चिकित्सा फ्री कर दी जाती है।

No 3: इन्हें एक सरकारी वाहन दिया जाता है और वाहन में डीजल भी फ्री में दिया जाता है।

No 4: इनके मोबाइल का बिल सरकार द्वारा भरा जाता है।

No 5: इनका विधायक का कार्यकाल समाप्त होने के बाद इन्हें पेंशन भी दी जाती है।

No 6: इनकी रेलवे यात्रा फ्री कर दी जाती है।

यह सभी सुविधाएं हर एक एमएलए को सरकार के द्वारा प्राप्त होती है।

पर्वत की चोटी किसे कहते हैं, पर्वत किसे कहते हैं?

People also ask: आपके सवालों के जवाब

Q1: किस राज्य के विधायक को सबसे ज्यादा वेतन मिलता है?

Ans: तेलंगाना, दिल्ली और मध्य प्रदेश राज्यों के एमएलए को मिलने वाला मासिक वेतन 2 लाख से 2.50 लाख रुपए तक दिया जाता है।

Q2: किस राज्य के विधायक को सबसे कम वेतन मिलता है?

Ans: त्रिपुरा, नागालैंड, मणिपुर जैसे कुछ राज्यों के विधायकों को 30 हजार रुपए से लेकर ₹50,000 तक का वेतन प्राप्त होता है।

Q3: भारत में कुल विधायकों की संख्या कितनी है?

Ans: 2023 में भारत में कुल 31 विधानसभा है, जिनमें लगभग 4126 एमएलए की सीट है।

Q4: एमएलए का कार्यकाल कितने वर्ष का होता है?

Ans: एमएलए का कार्यकाल पूरे 5 वर्ष का होता है।

होम पेज पर जाएंयहां क्लिक करें

इन्हें भी पढ़ें:

PLZ Share:

Leave a Comment