Mobile ki khoj kisne ki the | सबसे पहले मोबाइल किसने बनाया

आज के इस पोस्ट में हम आपको Mobile ki khoj kisne ki the, सबसे पहले मोबाइल किसने बनाया या मोबाइल का आविष्कार किसने किया के बारे में विस्तार पूर्वक mobile ki jankari प्रदान करेंगे।

वर्तमान समय में हमारी जनरेशन की सबसे ज्यादा रुचि स्मार्टफोन में ही है, आज के दौर में बिना मोबाइल के जीना असंभव है।

मोबाइल ने हमारी हर जरूरतों को पूरा किया है, किसी दूर बैठे व्यक्ति से संपर्क करना हो या किसी भी चीज की जानकारी प्राप्त करना हो। वैज्ञानिकों द्वारा की गई सभी अविष्कारों में सबसे ज्यादा इस्तेमाल की जाने वाली चीज mobile ka avishkar है।

शुरुआती वक्त में जब मोबाइल का आविष्कार किया गया तब उस दौरान मोबाइल का इस्तेमाल सिर्फ बात करने या संदेश भेजने के लिए किया जाता था। लेकिन समय के साथ टेक्नोलॉजी आगे बढ़ती गई और मोबाइल का इस्तेमाल गाना सुनने, फोटो खींचने, गेम खेलने आदि कामों के लिए भी किया जाने लगा।

यदि आप जानना चाहते हैं कि mobile ki khoj kisne ki या मोबाइल के बारे में जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो हमारे इस पोस्ट को आखरी तक अवश्य पढ़ें।

Mobile ki khoj kisne ki the, सबसे पहले मोबाइल किसने बनाया

वर्तमान समय में हम स्मार्टफोन का इस्तेमाल करते हैं जिसमें हजारों फीचर्स उपलब्ध है, और मोबाइल टेक्नोलॉजी को इतनी ऊंचाइयों तक पहुंचाने का सारा श्रेय सभी वैज्ञानिक इंजीनियर और विद्वानों को जाता है।

Mobile ki khoj kisne ki

सबसे पहले “एलेग्जेंडर ग्राहम बेल” ने टेलीफोन का आविष्कार किया था, और फिर उनके बाद कई वैज्ञानिकों ने टेलीफोन को छोटा और स्मार्ट बनाने की कोशिश की।

Telephone ka avishkar करने के बाद इसे और ज्यादा आधुनिक एवं पोर्टेबल बनाने की कोशिश करी जा रही थी, बहुत से वैज्ञानिकों और कंपनी ने इस पर काम किया लेकिन सबसे पहले जीत मोटरोला कंपनी के इंजीनियर मार्टिन कपूर को मिली।

सात अजूबे इस दुनिया में: हमारी दुनिया के सात अजूबे कौन-कौन से हैं इसकी जानकारी प्राप्त करने के लिए यहां दिए लिंक पर क्लिक करें।

Follow US

axialwork.com से जुड़ने के लिए आप हमें google news पर फॉलो कर सकते हैं, ताकि आपको हमारी वेबसाइट की ज्ञानवर्धक जानकारियां समय-समय पर मिलती रहे।

अभी फॉलो करें

 

दुनिया में सबसे पहले मोबाइल किसने बनाया

दुनिया में सबसे पहले मोबाइल का आविष्कार करने वाले व्यक्ति का नाम मार्टिन कूपर था, इन्होंने वर्ष 1970 में मोटरोला कंपनी को ज्वाइन किया था। इनकी रूचि टेलीकॉम कंपनी में काफी ज्यादा थी, इसी रुचि के साथ टेलीकॉम इंडस्ट्री में काम करते वक्त इन्होंने सबसे पहले वर्ष 1973 में मोबाइल बनाया था।

इस मोबाइल का नाम Motorola DynaTAC रखा गया था और इसका वजन 1.1 किलोग्राम था और इस मोबाइल को फुल चार्ज होने में कुल 10 घंटे लगते थे इस फोन में आप 30 लोगों का कांटेक्ट सेव कर सकते थे। दुनिया के सबसे पहले फोन की कीमत करीब ₹200000 थी।

हालांकि इस फोन में कुछ कमियां थी जिन्हें पूरा करने में लगभग एक दशक लग गया और फोन की लागत भी काफी ज्यादा थी जिसे कम करने के लिए इस पर काम किया गया और तब वर्ष 1983 में इस फोन को मार्केट में लॉन्च किया गया।

अमीर देश: दुनिया का सबसे ज्यादा अमीर देश कौन सा है इसकी जानकारी प्राप्त करने के लिए यहां दिए लिंक पर क्लिक करें।

भारत में मोबाइल कब लॉन्च किया गया

दोस्तों देखा जाए तो आज के समय में पूरा विश्व mobile ki duniya बन गया है क्योंकि आज हमारे विश्व में कोई भी ऐसा देश नहीं है, जहां मोबाइल का इस्तेमाल ना किया जाता हो, ऐसे में भारत भी मोबाइल को अपनाने में पीछे नहीं रहा है,

जैसा कि अभी हमने आपको बताया दुनिया में सबसे पहले मोबाइल वर्ष 1983 को लांच किया गया था जो कि सिर्फ अमेरिका देश के बाजार में ही उपलब्ध था।

परंतु यदि भारत की बात की जाए तो भारत में मोबाइल की शुरुआत वर्ष 1995 में हो गई थी, भारत में मोबाइल का इस्तेमाल करके वर्ष 1995 में हमारे भारत के दूरसंचार मंत्री श्री सुखराम जी ने 31 जुलाई 1995 में बंगाल के मुख्यमंत्री श्री ज्योति बसु जी से वार्तालाप किया था।

सबसे बड़ी नदी: भारत की सबसे बड़ी और सबसे लंबी नदियां कौन-कौन सी है इसकी जानकारी प्राप्त करने के लिए यहां दिए लिंक पर क्लिक करें।

FAQ’s:

Q1: मोबाइल को हिंदी में क्या कहते हैं?

Ans: मोबाइल को हिंदी में चलंत दूरभाष यंत्र कहते है।

Q2: जिओ मोबाइल का आविष्कार किसने किया?

Ans: मुकेश अंबानी

Q3: टच स्क्रीन मोबाइल का आविष्कार किसने किया?

Ans: आईबीएम और बेलसेल्फ कंपनी द्वारा टच स्क्रीन मोबाइल का आविष्कार किया गया।

Q4: सबसे पहले मोबाइल का आविष्कार किसने किया?

Ans: मार्टिन कपूर

Q5: मोबाइल का आविष्कार कब हुआ?

Ans: मोबाइल का आविष्कार 3 अप्रैल 1973 को किया गया था।

Q6: मोबाइल का जन्मदिन कब है?

Ans: वैसे तो मोबाइल का जन्मदिन कभी नहीं मनाया जाता है पर अगर आप मोबाइल का जन्मदिन मनाना चाहते हैं तो आपको मोबाइल का जन्मदिन हर साल 3 अप्रैल को बनाना चाहिए, क्योंकि मोबाइल का आविष्कार 3 अप्रैल 1973 को हुआ था।

आगे और पढ़ें:

Conclusion: निष्कर्ष

आज के इस लेख में हमने जाना कि मोबाइल की खोज किसने की या Mobile ka avishkar kisne kiya इसके साथ ही हमने यह भी जाना कि भारत में सबसे पहले मोबाइल कब आया।
यदि आप मोबाइल की खोज किसने की के बारे में किसी भी सवाल का जवाब जानना चाहते हैं,

तो हमें कमेंट बॉक्स में पूछें, और अगर आपको हमारा लेख पसंद आया हो तो इसे लाइक और शेयर अवश्य करें।

Content Writer: माही जयसवाल

Rate this post

Leave a Comment

16 + 18 =