Akbar navratna name: अकबर के नवरत्न कौन हैं?

Akbar ke navratna: अकबर के नवरत्न कौन हैं, आज की पोस्ट में आपको अकबर के नवरत्न की पूरी जानकारी दी गई है,

No 1: बीरबल (अकबर का पहला नवरत्न)

बीरबल अकबर के सलाहकार के रूप में जाने जाते थे, बीरबल काफी ज्यादा चतुर और बुद्धिमान थे

No 2: तानसेन (अकबर का दूसरा नवरत्न)

तानसेन काफी बड़े संगीतकार थे जो कि अकबर के दरबार में संगीतज्ञ का कार्य करते थे यानी कि संगीत गाते थे, इनका वास्तविक नाम राम तनु पांडे था,

No 3: राजा टोडरमल (अकबर का तीसरा नवरत्न)

राजा टोडरमल का जन्म 1500 ईसवी के अंदर हुआ था, यह अकबर के दरबार में वित्त मंत्री के रूप में कार्यरत थे यह अकबर के दरबार के अंदर राजस्व सुधार के कार्यों को संभालते थे। ,

No 4: अबुल फजल (अकबर का चौथा नवरत्न)

अबुल फजल का जन्म 14 जनवरी 1551 ईस्वी में आगरा के अंदर हुआ था, अबुल फजल ने अकबरनामा और अकबरी नामा की रचना की थी।

No 5: फैजी (अकबर का पांचवा नवरत्न)

फैजी अकबर के समय के काफी अच्छे कवि थे यह अबुल फजल के बड़े भाई थे, फैजी का जन्म 24 सितंबर 1547 में आगरा के अंदर हुआ था,

No 6: राजा मानसिंह ( अकबर के छठे नवरत्न)

राजा मानसिंह का जन्म 21 दिसंबर 1550 ईस्वी मैं आमेर के अंदर हुआ था, राजा मानसिंह अकबर की सेना के अंदर सेनापति के रूप में कार्यरत थे

No 7: मुल्ला दो प्याजा (अकबर के सातवें नवरत्न)

मुल्ला दो प्याजा एक तिगड़म बाज होने के बावजूद भी अकबर के दरबार में अकबर के सलाहकारों के अंदर गिने जाते थे और इन्हें अकबर के नवरत्न होने का खिताब भी हासिल हुआ था।

No 8: फकीर अजिओं-दिन (अकबर के आठवें नवरत्न)

फकीर अजिओं-दिन अकबर के दरबार में अकबर के सलाहकार के रूप में कार्यरत थे और यह एक सूफी फकीर थे।

No 9: अब्दुल रहीम खान-ए-खाना ( अकबर के नोवे नवरत्न)

अब्दुल रहीम खान-ए-खाना एक बहुत ही अच्छे कवि थे जो कि अकबर की सेना के एक विश्वसनीय पात्र जनरल बैरम खान के पुत्र थे, अब्दुल रहीम अपनी गजलों और दोहो को लेकर काफी ज्यादा प्रचलित हुआ करते थे।

Akbar ke navratna: से संबंधित पुरी जानकारी प्रात करने के लिये नीचे दिये बटन पर  

भारत की खोज किसने की है इसकी पूरी जानकारी प्राप्त करने के लिए यहां दिए लिंक पर क्लिक करें।

आगे और पढ़ें: