भारत का सबसे बड़ा चोर कौन है?

न्याय करने वाला ही निकला भारत का सबसे बड़ा चोर

भारत का सबसे बड़ा चोर “धनीराम मित्तल” है, जिसने जज की कुर्सी पर बैठकर सही और गलत का फैसला किया है।

जिस चोर को जेल की सलाखों के पीछे होना चाहिए था, उसने जज की कुर्सी पर बैठकर दूसरे काफी मुजरिमों को रिहा किया है।

आज भारतीय इतिहास के अंदर सबसे ज्यादा चोरी करने का रिकॉर्ड धनीराम मित्तल के ही नाम है

और यह अपनी पूरी जिंदगी में इतनी बार जेल गया है कि यह कह पाना भी मुश्किल है कि इसने कुल कितनी चोरियां की है।

पर जब बार-बार यह चोरी करते हुए पकड़ा जाता था तो जज के द्वारा सजा सुनाई जाती थी और ऐसे में इसने यह फैसला कर लिया कि अगर मैं ही जज बन जाऊं तो ऐसे में मुझे फिर कौन सजा सुनाएगा।

और अपनी यह धारणा लिए इसने जज की नकली डिग्रियां बनवाई और नकली डिग्रियां हासिल करके यह जज की कुर्सी पर भी बैठ गया

और लगभग लगातार दो महीनों तक जज की कुर्सी पर बैठकर मुजरिमों को सजा देने के बजाय उन्हें बाइज्जत रिहा करता रहा

धनीराम मित्तल भारत का सबसे बड़ा चोर कैसे बना | धनीराम मित्तल के जज बनने की कहानी, पुरी पढ़ने के लिए यहां दिए लिंक पर क्लिक करें।

अगर आपको हमारी टीम द्वारा लिखित लेख पसंद आ रहे हैं और आप रेगुलर हमारे लेख पढ़ना चाहते हैं तो आप हमारे साथ टेलीग्राम पर जुड़ सकते हैं।